झारखंड की खबरे

अपराधी साहू ने झारखंड के जेल अधीक्षक को दी जान से मारने की धमकी मांगा रंगदारी….

आम आदमी से अगर अपराधी रंगदारी मांगे और उन्हें जान से मारने की धमकी दे तो वह आदमी अपनी सुरक्षा के लिए थाने पहुंचता है और पुलिस की मदद लेता है पर जब हम आपको यह बताएंगे कि झारखंड के एक जेल में बंद अपराधी अमन साहू ने खुलेआम जेल के अधीक्षक को जान से मारने की धमकी दे डाली । कुख्यात बदमाश अमन साहू की तरफ से मेदिनीनगर सेंट्रल जेल के अधीक्षक जितेंद्र कुमार को जान से मारने की धमकी दी गई है। इसके बाद जेल अधीक्षक ने पूरे मामले की जानकारी पलामू के एसपी चंदन कुमार सिन्हा को दी है। पुलिस ने जेल अधीक्षक की सुरक्षा बढ़ा दी है। साथ ही इस मामले की जांच की जा रही है। इससे पहले गिरिडीह सेंट्रल जेल में रहते हुए अमन साहू वहां के जेलर प्रमोद कुमार पर जानलेवा हमला करा चुका है। साथ ही दो करोड़ की रंगदारी की मांग की थी।

 

 

मोदीनगर सेंट्रल जेल में बंद है साहू….

 

अमन साहू 17 सितंबर से पलामू जिला मुख्यालय स्थित मेदिनीनगर सेंट्रल जेल में बंद है। यहां पर सिमडेगा जेल से शिफ्ट किया गया है। इससे पहले 23 जुलाई को अमन साहू को गिरीडीह जेल से सिमडेगा जेल शिफ्ट किया गया था। 20 जुलाई को गिरिडीह जेल के जेलर प्रमोद कुमार पर अपराधियों द्वारा की गयी फायरिंग में अमन साहू का हाथ सामने आया था। जेल में मनमानी सुविधा की मांग पूरी नहीं होने पर जेलर पर फायरिंग करवाया था।

 

अमन साहू को जब सिमडेगा जेल से मेदिनीनगर जेल शिफ्ट करने की तैयारी चल रही थी तो वह आना नहीं चाहता था। जेल आइजी को पत्र लिखकर मेदिनीनगर नहीं भेजने का अनुरोध किया था। हालांकि इसके बाद उसे भेज दिया गया। मेदिनीनगर में जेल के अंदर अमन को सेल में रखा गया है। काफी सख्ती बरती जा रही है। इसलिए वह परेशान है। अपने गैंग के सदस्यों के संपर्क नहीं कर पा रहा है।

 

 

खुलेआम पलामू को डिस्टर्ब कर देने की धमकी…

 

रांची से लेकर कोयलांचल तक गुंडा टैक्स वसूली का धंधा करने वाला अमन मेदिनीनगर जेल में पहुंचे ती मनमानी डिमांड शुरू कर दी। जेल के अंदर जमांदार से कहा कि उसे मोबाइल फोन की सुविधा मुहैया कराई जाय। वह अपने गैंग के सदस्यों से संपर्क में रहना चाहता है। सुविधा न मिलने पर पलामू को डिस्टर्ब कर देंगे। उसी दिन से सुविधा को लेकर अमन गैंग के सदस्यों ने जेलर जितेंद्र कुमार को वाट्सएप काल के माध्यम से धमकी देनी शुरू कर दी। यह धमकी लगातार जारी है। हालांकि इसके बाद भी जेल प्रबंधन की सख्ती जारी है। अमन अपने गैंग के सदस्यों से संपर्क नहीं कर पा रहा है। उसके गुर्गे जेलर को जान मारने की धमकी दे रहे हैं।

 

 

अमन साहू पर दर्जन 90 से ज्यादा अपराधिक मामले…

 

झारखंड के कुख्यात अमन साहू पर 90 से ज्यादा मामले विभिन्न थानों में दर्ज हैं। ये मामले गिरिडीह, रामगढ़, हजारीबाग, रांची आदि जिलों में हैं। ये ज्यादातर ठेकेदारों, कोयला व्यवसायियों और बड़े पूंजीपतियों को गुंडा टैक्स के लिए निशाना बनाता है।

 

 

एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने कहा कि मेदिनीनगर केंद्रीय कारा के अधीक्षक के मोबाइल पर अज्ञात नंबर से वाट्सएप मैसेज कर जान मारने की धमकी दी गई है। जिसमें अमन साहू को सुविधा प्रदान करने की मांग भी की गई है। पुलिस पूरे मामले में अनुसंधान कर रही है । केंद्रीय कारा सहित अधीक्षक की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

 

अब पूरी खबर पढ़ने के बाद आपको यह अंदाज आप चल गया होगा कि क्या कुछ मामला है और आप भी अचरज में पड़ गए होंगे कि अब अपराधियों के धमकी से आम आदमी किस से सहायता मांगेंगे क्योंकि जब अपराधी जेल के अधीक्षक को धमकाने से नहीं कतरा रहे हैं तो आम आदमी की तो बात ही कहीं दूर तक है ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button