All News

तो क्या आमने सामने हो जायेंगे कांग्रेसी विधायक, 2024 में कौन बनेगा सांसद उम्मीदवार? प्रदीप  –  इरफ़ान  या दीपिका पाण्डेय सिंह

प्रदीप यादव और इरफ़ान अंसारी के समर्थक आपस में लगाने लगे भावी सांसद जिंदाबाद के नारे , कहीं कंफ्यूजन में ना पड़ जाये कांग्रेस 

राजनीती बड़ी अजीब चीज होती है l कब किसको क्या देखने को मिल जाये ये कहना बड़ा मुश्किल है .. और ऐसी हीं मुश्किल हालातों से आजकल संथाल परगना की राजनीती भी जूझ रही हैँ l  एक तरफ जहां जगजाहिर है कि बीजेपी कांग्रेस के नेताओं में घमासान मची रहती है वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस के अंदरूनी थे में मैं भी उठापटक दिखाई देती है l

क्या है मामला

पोड़ईयाहाट विधायक प्रदीप यादव और जामताड़ा विधायक इरफान अंसारी दोनों में इस वक्त कांग्रेस में शामिल हैं l एक तरफ जहाँ विधायक इरफान अंसारी शुरू से कांग्रेसी थे तो वही प्रदीप यादव जेविएम से कांग्रेस में शामिल हुए l लेकिन तुम शायद कहीं ना कहीं प्रदीप यादव कांग्रेसी नेताओं को फूटी आंख नहीं सुहा रहे हैं l हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि कभी गोड्डा में प्रदीप यादव के सामने बगावती सुर नजर आते हैं तो कभी देवघर में ..  और इन सुरों के पीछे कोई और नहीं बल्कि कांग्रेसी कार्यकर्ता ही दिखाई देते हैं l

ताजा मामला बीते दिनों देवघर में हुए कांग्रेसी कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान का है l कार्यक्रम की शुरुआत हो नहीं मारी थी कि तभी प्रदीप यादव के सामने इरफान अंसारी के समर्थकों ने नारे लगाना शुरू कर दिया l नारा भी ऐसा वैसा नहीं बल्कि ” हमारा सांसद कैसा हो इरफान अंसारी जैसा हो ”

मौके पर मंत्री बादल पत्रलेख ..  प्रदीप यादव ..  देवघर और गोड्डा के कांग्रेस जिलाध्यक्ष के साथ  विधायक इरफान अंसारी सब मौजूद थे l

प्रदीप समर्थकों ने संभाला मोर्चा

कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलन में विधायक प्रदीप यादव के सामने इरफान अंसारी के भावी सांसद जिंदाबाद होने के नारे को सुनते ही प्रदीप यादव के समर्थक भी भड़क उठे और उन्होंने भी
”  हमारा सांसद कैसा हो प्रदीप यादव जैसा हो  ” का नारा लगाना शुरू कर दिया l

हर बार की तरह डैमेज कंट्रोल करते नजर आए प्रदीप यादव

नारेबाजी के बीच जहां मंत्री बादल पत्रलेख से लेकर बाकी लोग चुप नजर आये  वहीं प्रदीप यादव ने हमेशा की तरह अपने कार्यकर्ताओं को समझाना शुरु किया और उन्हें एकता का संदेश देते नजर आए l प्रदीप यादव ने  कहा कि गोड्डा लोकसभा से सांसद का उम्मीदवार कौन होगा इसका निर्णय पार्टी लेगी l

कांग्रेस में ऑल इज नॉट वेल

ऑल इज नॉट वेल का मतलब होता है सब कुछ ठीक-ठाक नहीं है l और ऐसा ही कुछ ठीक-ठाक कांग्रेस में भी नहीं होता दिखाई दे रहा l कभी दीपिका पांडे सिंह के साथ तो आज इरफान अंसारी के साथ विधायक प्रदीप यादव शायद अभी भी पूरी तरीके से कांग्रेसी नहीं हो पाए हैँ l क्योंकि पिछले बार भी गोड्डा में कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान माहौल बिगड़ते समय प्रदीप यादव को डैमेज कंट्रोल करते हुए देखा गया था और फिर आज देवघर वाले कार्यकर्ता सम्मेलन में भी प्रदीप यादव ही लोगों को समझाते नजर आए l

गोड्डा लोकसभा सीट पर दावेदारी किसकी

झारखंड में कुल 14 विधानसभा सीटों में से एक गोड्डा लोकसभा सीट है जिसमें देवघर और गोड्डा दोनों जिले आते हैं l पिछले तीन बार से इस सीट पर बीजेपी के निशिकांत दुबे जीतते आए हैं l निशिकांत दुबे के पहले फुरकान अंसारी गोड्डा लोकसभा से सांसद थे l प्रदीप यादव की लगभग हर बार के चुनाव में गोड्डा लोकसभा से चुनाव लड़ते नजर आए हैं जहां उन्हें सिर्फ एक बार ही सांसद बनने का मौका मिला है l

गोड्डा लोकसभा चुनाव में दावेदारी के लिए कांग्रेस में ही अब तीन प्रत्याशी दिखने लगे हैं l हर बार गोड्डा लोकसभा चुनाव में निशिकांत दुबे को कड़ी टक्कर देते पहले स्थान पर प्रदीप यादव है .. तो वहीं दूसरे स्थान पर माने तो लोग दबे मुंह  दीपिका पांडे सिंह के भी भावी सांसद प्रत्याशी होने की बात कह रहे हैं l देवघर वाला प्रकरण इस बात का सबूत देता नजर आ रहा है कि गोड्डा लोकसभा से अगले लोकसभा चुनावों में इरफान अंसारी भी अपनी दावेदारी ठोंक सकते हैं l और अगर ऐसा हुआ तो शायद यह कहना गलत नहीं होगा कि संथाल परगना कांग्रेस के अंदर आपसी कलह और फुट होना निश्चित है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker