All News

झारखण्ड से चलने वाली इस ट्रेन का परिचालन 2 साल बाद हुआ शुरू, इन राज्यों का सफर होगा आसान

लौहनगरी जमशेदपुर के लोगों के लिए शुक्रवार का दिन खास रहा। खासकर सिख समाज के लोगों के लिए। टाटानगर स्टेशन से शुक्रवार शाम 27 महीने बाद टाटा-जम्मूतवी एक्सप्रेस रवाना हुई। 21 कोच की ट्रेन को पहले ही दिन 1002 यात्री मिले। इससे टाटा-जम्मू मार्ग पर ट्रेन की उपयोगिता भी रेलवे को पता चली। ट्रेन की हर बोगी में झारखंड के विभिन्न छोटे-छोटे स्टेशनों एवं लंबी दूरी के यात्री थे।

 

इधर, ट्रेन चलने से पहले झारखंड गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान सरदार शैलेंद्र सिंह व अन्य संगठन के नेताओं ने इंजन ड्यूटी लोको पायलट को लड्डू खिलाकर मुंह मीठा कराया। ट्रेन को झंडी दिखाने के लिए सरदार शैलेंद्र सिंह, पूर्व विधायक मेनका सरदार, सांसद प्रतिनिधि संजीव कुमार, भाजपा नेता गुंजन यादव समेत स्टेशन निर्देशक रघुवंश कुमार मौजूद थे। यात्री सुविधा के तहत रेलवे की पहल पर आईआरसीटीसी जम्मू की ट्रेन में टाटानगर से पैंट्रीकार सुविधा शुरू कर दी, ताकि यात्रियों को पूरे रास्ते खाना-पानी की दिक्कत न हो।

यात्रियों में उत्साह

टाटानगर से जम्मूतवी एक्सप्रेस के शुरू होने पर यात्रियों का उत्साह देखते ही बन रहा था, क्योंकि 2025 किलोमीटर की दूरी तय करने वाली ट्रेन को रेलवे ने झारखंड, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा और पंजाब के 70 छोटे-बड़े स्टेशनों पर ठहराव दिया है। इससे ट्रेन के हर फेरे में सैकड़ों यात्रियों को आवागमन की नई सुविधा मिली है।

 

टाटानगर-जम्मूतवी को रेलवे ने मार्च 2020 में कोरोना के कारण बंद किया था लेकिन बाद में लिंक ट्रेन सुविधा खत्म करने की योजना से ट्रेन को नहीं चलाया गया। इससे जमशेदपुर के सिख संगठनों ने स्टेशन पर धरना देकर रेलवे को पत्र दिया था। यह ट्रेन हफ्ते तीन दिन अप-डाउन करेगी। झारखंड, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा और पंजाब के 70 स्टेशनों पर इसका ठहराव होगा।

Aman Kumar Jha

Founder & CEO 👉 ( Namaste Media ) Digitel Marketer | Young Entrepreneur | Web Developer | Blogger | Content Creator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button